जयपुर। फिल्म पद्मावती का विरोध सनक की सीमा पार कर चुका है। जयपुर स्थित नाहरगढ़​ किले की दीवार पर लटकती लाश और उसके साथ पत्थरों पर लिखी चेतावनियां तो कुछ ऐसा ही संकेत दे रही हैं।

शुक्रवार को जयपुर से लगभग 15 किलोमीटर दूर स्थित नाहरगढ़ किले की दीवार पर एक लटकती हुई लाश मिली है। इस आस पास पड़े पत्थरों पर ‘हम सिर्फ पुतले ही नहीं लटकाते’ जैसी कई चेतावनियां लिखी हुई थी।

जानकारी के मुताबिक मृतक व्यक्ति की पहचान चेतन कुमार सैनी निवासी नाहरी का नाका, शास्त्री नगर के रूप में हुई है, जो हैंडीक्राफ्ट व्यवसायी है।

इस मामले की जांच कर रही पुलिस ने कुछ पत्थरों को लिखावट शिनाख्त के लिए जब्त कर लिया है और बाकी पत्थरों की फोटोग्राफी करवाने के बाद उन्हें पानी से धो दिया गया।

Source ANI Twitter

इस मामले में मीडिया से बात करते हुए मृतक के भाई नवरतन सैनी ने कहा, ‘व्यवसाय में कोई दिक्कत नहीं थी, और नाहीं किसी से कोई विवाद था। मैं पूरे यकीन के साथ कह सकता हूं कि उसकी हत्या हुई है।’

Source ANI Twitter

उधर, एडीसीपी प्रफुल्ल कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘प्रथम नजर से इसको आत्महत्या स्वीकार किया गया है। हालांकि, पोस्टमार्टम और एफएसएल रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।’

रिपोर्ट/कृष्ण आर्यवत