नए नेपाली नक्‍शे पर राजनीतिक पार्टिंयों की एकजुटता से बागोबाग हुईं मनीषा कोईराला

210

नेपाल सरकार ने शनिवार को नेपाल के उस नए नक्‍शे को मंजूरी दे दी, जिसमें भारतीय क्षेत्र लिपुलेख, कालापानी और लिम्पियाधुरा को नेपाली क्षेत्र करार दिया गया है। भारत सरकार ने नेपाल सरकार के कदम पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह अतिक्रमण और अमान्‍य है।

दिलचस्‍प बात तो यह है कि इस मामले में नेपाली मूल की अभिनेत्री मनीषा कोईराला, जो सालों से भारत में रह रही हैं, ने नेपाल सरकार के कदम और नेपाली राजनीतिक पार्टियां की एकजुटता की सराहना की है।

इतना ही नहीं, मनीषा कोईराला ने कोविड 19 को लेकर नेपाल सरकार की बदइंतजामी के विरोध में चल रहे विरोध प्रदर्शनों में शामिल युवाओं को आज के दिन शांति बनाए रखने की अपील की।
सौदागर अभिनेत्री ने नेपाली युवाओं से अपील करते हुए कहा, ‘मुझे युवाओं पर गर्व है। इतना ही नहीं, मैं आपसे इससे ज्‍यादा की उम्‍मीद करती हूं। आपके पास आपकी समस्‍याओं को उठाने के लिए बहुत से दिन हैं। सभी समस्‍याएं और चिंताएं जायज हैं। मैं एक आशा की किरण देखती हूं। यह वो पीढ़ी है, जो आने वाले दिनों में देश का नेतृत्‍व संभालेगी, इसलिए अधिक सतर्क और जिम्‍मेदार हो।’

अभिनेत्री मनीषा कोईराला कहती हैं, ‘मुझे उम्‍मीद थी कि युवा आज का दिन जाने देंगे, क्‍योंकि पहली बार राष्‍ट्र की राजनीतिक पार्टिंयां एकजुटता के साथ खड़ी हैं, राष्‍ट्र के लिए। प्रदर्शन तो कल दुबारा भी शुरू किए जा सकते हैं।’