‘लिपस्‍टिक अंडर माय बुर्का’ जर्मन एजेंसी के हवाले

0
170

मुम्‍बई। अलंकृता श्रीवास्‍तव निर्देशित फिल्‍म ‘लिपस्‍टिक अंडर माय बुर्का’ पहली भारतीय फिल्‍म है, जिसको विश्‍व स्‍तर पर वितरण और फिल्‍म समारोह में प्रदर्शित करने का जिम्‍मा जर्मन सेल्‍स एजेंसी एम-अपील ने उठाया है।

यह व्‍यावसायिक समझौता शुरूआत में केवल यूरोपियन फिल्‍म मार्केट और बर्लिन फिल्‍म उत्‍सव तक सीमित था। फिल्‍म निर्माता निर्देशक प्रकाश झा निर्मित फिल्‍म में मुख्‍य भूमिका कोंकणा सेन शर्मा और रत्‍ना पाठक शाह ने निभाई है। यह चार मुस्‍लिम महिलाओं की कहानी है, जो एक छोटे से कस्‍बे में रहती हैं। और उनके भीतर आजादी की चाहत है।

Lipstick Under My Burkha

सूत्रों का कहना है कि एम-अपील एजेंसी के साथ समझौते को लेकर फिल्‍म निर्माता प्रकाश झा काफी खुश हैं। इतना ही नहीं, प्रकाश झा को पूरा विश्‍वास है कि जर्मन सेल्‍स एजेंसी फिल्‍म को फिल्‍म महोत्‍सवों तक बेहतर तरीके से पहुंचाएगी। और आगे भविष्‍य में अच्‍छे संबंधों की आशा भी है।

उधर, मीडिया से बातचीत करते हुए अलंकृता श्रीवास्‍तव ने भी समझौते पर खुशी प्रकट की है। उन्‍होंने कहा कि उनको काफी अच्‍छा लग रहा है। यह एक रोमांच जैसा है।