सिल्क स्मिता की कर्मभूमि की संस्कृति को सन्नी लिओनी से ख़तरा, लाइव कंसर्ट का विरोध!

0
274

बैंगलुरु। विदेशों की तरह भारत में भी 31 दिसंबर की रात को मनोरंजन भरपूर बनाने के लिए होटलों, पार्टी प्लॉटों और अन्य स्थलों पर निजी कार्यक्रम का आयोजन करना आम सा होता जा रहा है। इस बार 31 दिसंबर की रात्रि को होने वाले रंगारंग कार्यक्रमों में बैंगलुरु में होने वाला सन्नी लिओनी का लाइव कंसर्ट भी शामिल है।

सन्नी लिओनी के लाइव डांस कंसर्ट का एक कन्नड़ संगठन की ओर से पुरजोर विरोध किया जा रहा है। कहा जा रहा है कि सन्नी लिओनी का लाइव डांस कंसर्ट कन्नड़ संस्कृति पर हमला है और इससे युवाओं पर बुरा असर पड़ेगा।

शुक्रवार को कर्नाटक रक्षण वैदिक युवा सेना की ओर से मान्यता टेक पार्क के बाहर सन्नी लिओनी के इवेंट का जमकर विरोध किया गया। हालांकि, इस इवेंट का विरोध 7 दिसंबर 2017 से किया जा रहा है।

सेना कार्यकर्ताओं ने सन्नी लिओनी के कंसर्ट सन्नी लाइट इन बैंगलुरु एनवायई 2018 के रद्द न होने पर समूह आत्महत्या करने की चेतावनी दी है। संगठन कार्यकर्ताओं का कहना है कि सन्नी लिओनी का कार्यक्रम कन्नड़ संस्कृति पर बुरा असर डालेगा।

संगठन कार्यकर्ताओं ने कहा, ‘हम सब जानते हैं कि अभिनेत्री सन्नी लिओनी कौन है। वह भारतीय या कन्नड़ तो नहीं हैं। हम उसके अतीत के बारे में जानते हैं। हम नहीं चाहते कि सन्नी लिओनी हमारी धरती पर हमारी संस्कृति को बर्बाद करें।’

मगर, दिलचस्प बात तो यह है कि सन्नी लिओनी के लाइव डांस कंसर्ट का विरोध उस क्षेत्र में हो रहा है, जिसने कामुक अदाओं वाली सिल्क स्मिता जैसी अभिनेत्री को दुनिया से रूबरू करवाया, जो सामान्य अभिनेत्री बनना चाहती थी। लेकिन, लोगों की बढ़ती मांग ने उसको आइटम नंबरों का हिस्सा बनने पर मजबूर कर दिया। सिल्क स्मिता ने तमिल, तेलुगू और कन्नड़ फिल्मों में काम किया है।

गौर करने लायक है कि सन्नी लिओनी को इंडिया में आए छह साल हो चले हैं। बिग बॉस से सफर शुरू करने वाली सन्नी लिओनी कई हिंदी फिल्मों में अभिनेत्री के रूप में कर चुकी है और दक्षिण भारतीय फिल्मों में आयटम नंबर भी।

लेकिन, पिछले कुछ समय से सन्नी​ लिओनी के विरोध का वायरल तेजी के साथ देश के कोने कोने में फैलता जा रहा है। हालांकि, सनी​ लिओनी अन्य भारतीय फिल्म अदाकाराओं की तरह फिल्मों में सामान्य किरदार करने की कोशिश कर रही हैं।

पिछले साल गोवा में सन्नी लिओनी के बस पर लगे कंडोम के विज्ञापनों पर कड़ा एतराज प्रकट किया गया था। इस साल जब सूरत में नवरात्रि के दौरान एक दवा निर्माता कंपनी ने सन्नी लिओनी की साफ सुथरी तस्वीर के साथ बधाई देने की कोशिश की तो विरोध शुरू हो गया।

रोचक बात तो यह है कि कुछ साल पहले इसी शहर के व्यापारियों के कुछ फोटोज वायरल हुए थे, जिसमें व्यापारी सन्नी लिओनी के स्ट्रिप डांस का मजा ले रहे थे। भारत में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अधिक सन्नी लिओनी को गूगल पर सर्च किया जाता है।