बच्चों को शतरंज का खेल सिखाना चाहिए : आमिर खान

0
225

मुंबई | सुपरस्टार आमिर खान का कहना है कि उनकी दादी ने उन्हें शतरंज का खेल सिखाया था और वह इस खेल के शौकीन हैं। आमिर चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा बच्चे शतरंज सीखें, क्योंकि इससे उनका दिमाग तेज होता है और उनकी तार्किक क्षमता बढ़ती है।

शतरंज के मशहूर खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद को हृदयनाथ अवॉर्ड प्रदान करने के लिए आयोजित सामरोह में मौजूद आमिर ने कहा, “मैं अपनी पूरी जिंदगी शतरंज का शौकीन रहा हूं। मेरी दादी ने मुझे यह खेल सिखाया था, मैं तभी से शतरंज खेलता हूं। यह एक शानदार और मजेदार खेल है जिससे बच्चों का दिमाग तेज होता है और उनकी तार्किक क्षमता बढ़ती है।”

आमिर ने कहा, “मुझे लगता है कि देशभर के ज्यादा से ज्यादा बच्चों को यह खेल खेलना चाहिए। आनंद भी यही काम कर रहे हैं, काफी बच्चे उनसे प्रेरणा लेते हैं और यह खेल सीखना और खेलना चाहते हैं।”

आमिर ने पिछले साल मई में महाराष्ट्र शतरंज लीग के लिए एक समारोह के मौके पर आनंद के साथ शतरंज की एक बाजी खेली थी। उन्होंने इस दौरान कहा था कि वह शतरंज पर आधारित किसी फिल्म में काम करने के लिए तैयार हैं।

उस घटना को याद करते हुए आमिर ने कहा, “मैं हारना पसंद नहीं करता, लेकिन मैं ईमानदारी से बता सकता हूं कि उस एक मौके पर आनंद से हारने में मुझे मजा आया था।”

आमिर फिलहाल अपनी आगामी फिल्म ‘दंगल’ की शूटिंग में व्यस्त हैं। (आईएएनएस)