मीना कुमारी को नशे की लत ने नहीं, बल्कि तलाक और हलाला ने मारा था

0
211

मीना कुमारी : तनहाइयों ने बना दिया ट्रेजडी क्वीन

मुम्बई। जी हां, बॉलीवुड की खूबसूरत अदाकारा मीना कुमारी तलाक और हलाला का शिकार हुईं थी और उनकी मौत का कारण भी तलाक और हलाला के कारण होने वाली आत्म​ग्लानि थी।

दरअसल, मीना कुमारी ने फिल्मकार कमाल अमरोही के साथ निकाह ​किया था, जो फिल्म पकीजा के निर्देशन के लिए जाने जाते हैं। अचानक, ए​क दिन कमाल अमरोही ने गुस्से में आकर मीना कुमारी को तलाक तलाक तलाक कह कर रिश्ता खत्म कर दिया।

महमूद ने कभी मीना कुमारी को टेनिस सिखाया तो कभी ट्रेन में बेचीं टॉफियां

कहते हैं कि कुछ समय बाद फिल्मकार कमाल अमरोही को अपनी गलती का एहसास हुआ और मीना कुमारी से दूसरी बार निकाह करने की सोची। लेकिन, इस निकाह के लिए मीना कुमारी को निकाह हलाला प्रथा से होकर गुजरना था।

मीना कुमारी को निकाह हलाला प्रथा के लिए कमाल अमरोही के दोस्त और जीनत अमानत के पिता अमान उल्लाह खान से शादी करनी पड़ी। एक महीने के बाद अमान उल्लाह खान से तलाक लेकर मीना कुमारी ने कमाल अमरोही से दूसरी बार शादी की।

मगर, इस प्र​क्रिया ने मीना कुमारी को अंदर से तोड़ दिया था। मीना कुमारी ने अपना दर्द एक रचना में बयान किया था। मीना कुमारी ने सवाल किया कि मेरे और वेश्या में कितना अंतर है, यदि मुझे धर्म के लिए किसी दूसरे मर्द को अपना जिस्म सौंपना पड़े।

कहते हैं कि इसके बाद अभिनेत्री मीना कुमारी को नशे की लत लगी, जिसने 31 मार्च 1972 को उसका जीवन छीन लिया और कुछ हफ्ते पहले ही मीना कुमारी की फिल्म पकीजा रिलीज हुई थी।