चोटी से जारी हुआ पूर्णा का फर्स्‍ट लुक

0
240

मुंबई। पर्वतारोही मालावत पूर्णा ने दक्षिण अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलीमंजारो पर अपनी बायोपिक फिल्म ‘पूर्णा’ का पहला पोस्टर लॉन्च किया।

माउंट किलिमंजारो की चढ़ाई में पूर्णा के साथ उनके ट्रेनर और 17 अन्य लड़कियों की टोली थी। यह टोली 15 अगस्त को माउंट किलीमंजारो समिट के लिए निकली थी। भारत के स्वतंत्रता दिवस की शाम पूर्णा ने यहीं सबसे बड़ा झंडा फहराया और अपनी फिल्म का पहला पोस्टर 19 हजार 3 सौ 41 फीट की ऊंचाई से जारी किया।

purna first

पूर्णा पर बनी फिल्म के निर्माताओं ने इसका फर्स्‍ट लुक को जारी करने के लिए यूनिक मार्केटिंग प्लान बनाया। इसके लिए उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के किलीमंजारो चोटी को चुना और 15 अगस्त की तारीख पहले से तय की थी।

पूर्णा ने पर्वतारोहण 10 अगस्त को शुरू किया था। उन्होंने साथ में फिल्म के दो वाटरप्रूफ पोस्टर रख लिए थे। पूर्णा ने अपनी चढ़ाई 15 अगस्त को पूरी की और इसी के साथ उन्होंने पोस्टर भी वहीं से जारी किया।

विश्व सिनेमा के इतिहास में यह पहला मौका है, जब किसी फिल्म के फर्स्‍ट लुक को इतनी ऊंचाई से लॉन्च किया गया है। ‘पूर्णा’ राहुल बोस के प्रोडक्शन और डायरेक्शन में बनी फिल्म है, जिसने प्रमोशन के मामले में अन्य फिल्मों के सामने नया बेंचमार्क स्थापित किया है।

राहुब बोस कहते हैं, “जब हमने ये सुना कि पूर्णा 15 अगस्त की समिट के लिए किलीमंजारो चोटी पर जा रही हैं, तो मुझे आइडिया सूझा कि क्यों न उनकी बायोपिक फिल्म का पहला लुक वहीं से वो खुद लॉन्च कर दें। मैंने इसके बारे में क्रू के सभी लोगों से चर्चा की और सभी ने झट से इस क्रिएटिव आइडिया के लिए हां कर दिया।”

उन्होंने कहा, “यदि आप मुझसे पूछेंगे की ऐसा कैसे हो गया, तो मैं यही कहूंगा कि थोड़ी किस्मत और थोड़ी क्रिएटिव आइडिया ने अपना काम कर दिया।”

‘पूर्णा’ तेलंगाना की एक ऐसी लड़की की कहानी है, जिसने 13 वर्ष की उम्र में ही 25 मई, 2014 को दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट ऐवरस्ट फतह किया था।

-आईएएनएस