चिनॉय, श्‍कोकेन की Song Of Lahore पुरस्‍कृत

0
206

लंदन। ऑस्कर विजेता फिल्मकार ओबेड चिनॉय और एंडी श्कोकेन द्वारा निर्मित वृत्तचित्र ‘सॉन्ग ऑफ लाहौर’ ने बागड़ी फांउडेशन लंदन भारतीय फिल्म फेस्टिवल में ‘ऑडियन्स च्वाइस अवॉर्ड’ जीत लिया है। फिल्म लाहौर के संगीत समुदाय पर केंद्रित है।

ओबेड चिनॉय और एंडी श्कोकेन ने कहा, “हम खुश हैं कि ‘सॉन्ग ऑफ लाहौर’ ने ऑडियन्स अवॉर्ड जीत लिया है। फिल्म शौकिया बनाई गई है और यह खूबसूरत शहर लाहौर और सचल ऑर्केस्ट्रा के प्रति सम्मान है।”

‘सॉन्ग ऑफ लाहौर’ लाहौर के संगीत समुदाय पर आधारित एक वृत्तचित्र है, जो कि 1970 के दशक तक अपने संगीत और प्रतिभा के लिए विश्व विख्यात था। इज्जत मजीद ने देश में पारंपरिक संगीत के लिए जगह बनाने के उद्देश्य से 2004 में सचल स्टूडियोज की स्थापना की थी।

‘सॉन्ग ऑफ लाहौर’ सचल स्टूडियोज पर रोशनी डालती है और पाकिस्तान के संकीर्ण होते सांस्कृतिक क्षेत्र में अपना स्थान खो चुकी कला को पुनर्जीवित करने की कलाकारों की यात्रा को उजागर करती है। फिल्म इससे पहले भी दुनियाभर में विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोहों में छा चुकी है।

-आईएएनएस