टोटल हैप्‍पीनेस ‘हैप्‍पी भाग जाएगी’

0
186

कॉकटेल के बाद सिल्‍वर स्‍क्रीन से गायब डायना पेंटी हैप्‍पी भाग जाएगी के साथ बड़े पर्दे पर दस्‍तक दे रही है, वो भी तीन सितारों अभय देओल, जिम्‍मी शेरगिल और अली फजल के साथ। फिल्‍म का निर्देशन दुल्‍हा मिल गया जैसी फ्लॉप फिल्‍म दे चुके मुदस्‍सर अजीज ने किया है।

कहानी शुरू होती है पंजाब के अमृतसर से, जहां पर एक इंडो पाक एग्रीकल्‍चर मीट का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें पाकिस्‍तान से कुछ लोग आए हुए हैं, जिनमें जावेद अहमद (जावेद शेख़) भी शामिल हैं, जो पाकिस्‍तान के पूर्व हुकमरान हैं। जावेद शेख़ राजनीति में अपने बेटे बिलाल शेख़ (अभय देओल) को उतारना चाहते हैं, हालांकि, बिलाल शेख़ क्रिकेट की दुनिया में कदम रखना चाहते हैं। मीट ख़त्‍म होने के बाद जब शेख़ लाहौर पहुंचते हैं तो उनको जबरदस्‍त धक्‍का लगता है, जब उनके साथ भारत से एक लड़की हैप्‍पी (डायना पेंटी) भी उनके घर पहुंच जाती है। हैप्‍पी बताती है कि उसके पिता उसकी मर्जी के खिलाफ दमन सिंह बग्‍गा (जिम्‍मी शेरगिल) से उनकी शादी करना चाहते थे, जबकि वे तो गुड्ड (अली फजल) से प्रेम करती थी। इसके बाद पाकिस्‍तान में हैप्‍पी के साथ काफी कुछ होता है, जो गुदगुदाने का कारण भी बनता है और कहानी को अंत की ओर भी लेकर जाता है। भागी हुई हैप्‍पी किसके नसीब में लिखी है, इसके लिए फिल्‍म देखनी होगी।

Happy Bhag Jayegi 001

 

निर्देशन की बात करें तो मुदस्‍सर अजीज ने काफी अच्‍छा काम किया है। दर्शकों को बांधे रखने में कामयाब हुए हैं, हालांकि, फिल्‍म स्‍क्रीन प्‍ले आभासी है। फिर भी फिल्‍म काफी मनोरंजक है। फिल्‍म का पहला हिस्‍सा तो दर्शकों काफी प्रभावित करने की क्षमता रखता है। दूसरे हिस्‍से में कहानी प्‍यार, रोमांस और भावना में बहने लगती है। दुल्‍हा मिल गया जैसी फिल्‍म का निर्देशन कर चुके मुदस्‍सर अजीज हैप्‍पी भाग जाएगी से प्रभावित करते हैं। फिल्‍म की संवाद शैली भी दर्शकों को प्रभावित करेगी।

अभिनय की बात करें को बिलाल के किरदार में अभय देओल बिलकुल फिट बैठते हैं। हालांकि, इस किरदार के लिए पहले फवाद ख़ान को लेने पर विचार किया गया था। मगर, अभय देओल को इस किरदार में देखने के बाद आपको फवाद ख़ान के बारे में नहीं सोचेंगे। हैप्‍पी के किरदार में डायना पेंटी सिल्‍वर स्‍क्रीन पर एक बार फिर कमाल करती नजर आई हैं। हालांकि, डायना पेंटी में जब वी मेट की करीना कपूर का जोश, एनर्जी और बड़बोलापन देखने को मिल सकता है। दमन सिंह बग्‍गा का किरदार जिम्‍मी शेरगिल से बेहतर तो शायद ही कोई निभा सके। दमन के किरदार के लिए जिम्‍मी एकदम सही च्‍वॉइस कहे जा सकते हैं। अली फजल और मोमल शेख़ भी अपने अपने किरदारों में एकदम सही हैं।

पिछले सप्‍ताह रिलीज हुई मोहनजो दरो और रुस्‍तम से अलग शैली की फिल्‍म हैप्‍पी भाग जाएगी, इस सप्‍ताह अंत को खुशनुमा बना सकती है। हैप्‍पी भाग जाएगी बोले तो टोटल हैप्‍पीनेस। हमारी तरफ से फिल्‍म को तीन स्‍टार दिए जाते हैं। हालांकि, हमारी राय सभी पर लागू नहीं होती, क्‍योंकि हर किसी का अपना अपना नजरिया होता है।

-Mr.Rai